डेली करेंट अफेयर्स और GK | 20 अप्रैल 2021

Main Headlines:

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

1. नासा दूसरा कमर्शियल क्रू रोटेशन मिशन लॉन्च करेगा।

  • 22 अप्रैल को, नासा और स्पेसएक्स चार अंतरिक्ष यात्रियों के साथ दूसरा क्रू रोटेशन मिशन लॉन्च करेंगे।
  • नासा के स्पेसएक्स क्रू -2 मिशन को फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से लॉन्च किया जाएगा। इस मिशन को लॉन्च करने के लिए फाल्कन 9 रॉकेट का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • इसमें नासा के अंतरिक्ष यात्री शेन किम्ब्रोज और मेगन मैकआर्थर, जैक्सा (जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी) के अकीहिको होशिदे और ईएसए (यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी) अंतरिक्ष यात्री थॉमस पेस्क्वेट को ले जाया जायेगा।
  • क्रू -2 अंतरिक्ष यात्री छह महीने इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर बिताएंगे।
  • इससे पहले नासा ने स्पेस-एक्स डेमो -2 मिशन लॉन्च किया था। यह एक निजी क्षेत्र की वाणिज्यिक कंपनी की पहली मानव अंतरिक्ष उड़ान थी।
  • नासा:
    • यह अमेरिकी सरकार की एक स्वतंत्र एजेंसी है।
    • यह संयुक्त राज्य अमेरिका के अंतरिक्ष कार्यक्रम के नियमन के लिए जिम्मेदार है।
    • मुख्यालय: वाशिंगटन डी.सी.
 

विषय: पुरस्कार और सम्मान

2. गैलेंट्री अवार्ड्स पोर्टल ने 'इनोवेटिव ट्रिब्‍यूट्स टु ब्रेवहर्ट्स' प्रतियोगिता का आयोजन किया।

  • गैलेंट्री अवार्ड्स पोर्टल ने 'इनोवेटिव ट्रिब्‍यूट्स टु ब्रेवहर्ट्स' प्रतियोगिता का आयोजन किया है।
  • गैलेंट्री अवार्ड्स पोर्टल ने देश के गैलेंट्री अवार्ड्स विजेताओं की याद में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया है।
  • प्रतियोगिता 15 अप्रैल से 15 मई 2021 तक आयोजित की जा रही है।
  • इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य गैलेंट्री अवार्ड्स विजेताओं के लिए श्रद्धांजलि संदेशों की एक श्रृंखला तैयार करना है।
  • इस प्रतियोगिता के विजेताओं को नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड 2022 को देखने का मौका मिलेगा।
  • गैलेंट्री अवार्ड्स पोर्टल एक डायनेमिक, इंटरैक्टिव एवं सहभागी प्‍लेटफॉर्म के रूप में कार्य करता है।
  • इसका मुख्य उद्देश्य नागरिकों में देशभक्ति, भक्ति और समर्पण की भावना विकसित करना है।

Innovative Tributes to Bravehearts

(Source: News on AIR)

 

विषय: शिखर सम्मेलन / सम्मेलन / बैठकें

3. 15 अप्रैल को द एनर्जी फोरम (टीईएफ) और एफआईपीआई द्वारा हाइड्रोजन राउंडटेबल आयोजित किया गया।

  • 15 अप्रैल को द एनर्जी फोरम (टीईएफ) और फेडरेशन ऑफ इंडियन पेट्रोलियम इंडस्ट्री (एफआईपीआई) ने पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में हाइड्रोजन राउंडटेबल का आयोजन किया।
  • हाइड्रोजन राउंडटेबल (गोलमेज) सम्मेलन का आयोजन उभरते हुए हाइड्रोजन पारिस्थितिक तंत्र पर चर्चा करने और सहयोग, सहकारिताऔर गठबंधन के अवसरों का पता लगाने के लिए किया गया था।
  • इसमें उच्च-स्तरीय मंत्रिस्तरीय सत्र शामिल था, जिसके बाद पाँच पैनल चर्चाएँ हुईं। इसमें 15 देशों के 25 पैनलिस्ट थे। राउंडटेबल का एक अलग सत्र भारत के हाइड्रोजन मिशन के लिए समर्पित था।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने उद्घाटन भाषण दिया।
  • एनर्जी फोरम (टीईएफ) एक थिंक टैंक है जो वैश्विक ऊर्जा बाजारों पर शोध और विश्लेषण करता है।
  • फेडरेशन ऑफ इंडियन पेट्रोलियम इंडस्ट्री (एफआईपीआई) हाइड्रोकार्बन क्षेत्र की संस्थाओं का एक सर्वोच्च सोसाइटी है।

 The Energy Forum (TEF) and FIPI

(Source: DD News)

विषय: समितियां / आयोग / कार्यबल

4. आरबीआई ने सुदर्शन सेन की अध्यक्षता में छह सदस्यीय समिति का गठन किया।

  • आरबीआई ने वित्तीय क्षेत्र के पारिस्थितिकी तंत्र में एआरसीज के कामकाज की व्यापक समीक्षा के लिए सुदर्शन सेन की अध्यक्षता में छह सदस्यीय समिति का गठन किया है।
  • समिति वित्तीय क्षेत्र की बढ़ती आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनियों (एआरसीज) को सक्षम करने के उपायों की भी सिफारिश करेगी।
  • समिति अपनी पहली बैठक से तीन महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी।
  • समिति सभी वर्तमान कानूनी और नियामक ढांचे की समीक्षा करेगी जो एआरसीज पर लागू होते हैं।
  • समिति द्वारा एआरसीज की दक्षता में सुधार के उपायों की सिफारिश की जाएगी।
  • इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी), 2016 सहित स्ट्रेस्ड परिसंपत्तियों के समाधान में एआरसीज की भूमिका की भी समीक्षा की जाएगी।
  • समिति  एआरसीज के कामकाज, पारदर्शिता और शासन से संबंधित किसी अन्य मामले की भी समीक्षा करेगी।
  • विशाखा मुल्ये, पी एन प्रसाद, रोहित प्रसाद, अबीजर दीवानजी और आर आनंद समिति के सदस्यों के नाम हैं।
  • जुलाई 2020 में, एआरसीज  को आरबीआई द्वारा हितधारकों के साथ व्यवहार में पारदर्शिता और निष्पक्षता प्राप्त करने के लिए फेयर प्रैक्टिस कोड (एफपीसी) स्थापित करने की सलाह दी गई थी।

विषय: राज्य समाचार / राजस्थान

5. राजस्थान सरकार ने कोरोना के मामलों में वृद्धि के बाद 'जन अनुशासन पखवाड़ा' की घोषणा की।

  • राजस्थान सरकार ने कोरोना मामलों में तेजी से वृद्धि के बाद 'जन अनुशासन पखवाड़ा' या सार्वजनिक अनुशासन पखवाड़ा की घोषणा की है।
  • यह सप्ताहांत कर्फ्यू का ही विस्तार है। हालांकि, सरकार ने इसे लॉकडाउन या कर्फ्यू का नाम नहीं दिया है।
  • इसे कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए 3 मई 2021 तक लगाया गया है।
  • 'जन अनुशासन पखवाड़ा' के महत्वपूर्ण प्रावधान:
    • सभी सरकारी कार्यालय, बाजार, मॉल, वाणिज्यिक प्रतिष्ठान और कार्यस्थल बंद रहेंगे।
    • सार्वजनिक स्थानों और कार्यस्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
    • रात्रि 8 बजे तक रेस्तरां, कन्फेक्शनरी इत्यादि द्वारा होम डिलीवरी की अनुमति दी जाएगी।
    • थोक और खुदरा दुकानों को शाम 5 बजे तक खुला रहने दिया जाएगा।
    • सभी औद्योगिक और निर्माण कार्य की अनुमति होगी।
  • राजस्थान:
    • यह उत्तरी भारत का एक राज्य है जिसकी राजधानी जयपुर है।
    • क्षेत्रफल की दृष्टि से यह भारत का सबसे बड़ा राज्य है और जनसंख्या के लिहाज से सातवां सबसे बड़ा राज्य है।
    • राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र हैं और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हैं।
    • रणथंभौर नेशनल पार्क और सरिस्का टाइगर रिजर्व राजस्थान में स्थित हैं।

विषय: समझौता ज्ञापन / समझौते

6. पर्यटन मंत्रालय ने क्लीयरट्रिप और ईज़ माई ट्रिप के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

  • आतिथ्य और पर्यटन उद्योग को मजबूत बनाने के लिए, पर्यटन मंत्रालय ने क्लीयरट्रिप और इ ईज़ माई ट्रिप के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।
  • इसका उद्देश्य उन आवास इकाइयों को व्यापक दृश्यता उपलब्ध कराना है जो ओटीए प्लैटफार्म पर मौजूद साथी एप (सिस्टम फॉर एसेसमेंट, अवेयरनेस एंड ट्रेनिंग फॉर दि हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री) पर खुद को स्वप्रमाणित कर चुकी हैं।
  • समझौता ज्ञापन इन इकाइयों को निधि ऐप पर और साथी ऐप पर पंजीकृत कराने के लिए प्रोत्साहित करेगा। यह स्थानीय पर्यटन उद्योग को प्रोत्साहित करने में भी मदद करेगा।
  • पर्यटन मंत्रालय और ऑनलाइन ट्रैवल कंपनियां पर्यटन क्षेत्र में रणनीतिक और तकनीकी सहयोग को प्रोत्साहित करने और विकसित करने के लिए सहयोग करेंगी।
  • एमओयू सुरक्षित और टिकाऊ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आवास इकाइयों की जानकारी एकत्र करने में भी मदद करेगा।

MoU with Cleartrip and Ease My Trip

(Source: PIB)

विषय: खेल

7. मैक्स वेरस्टापेन ने एमिलिया रोमाग्ना एफ 1 ग्रांड प्रिक्स 2021 जीता।

  • मैक्स वेरस्टापेन ने इटली में एमिलिया रोमाग्ना एफ 1 ग्रांड प्रिक्स 2021 जीता है। यह 2021 फॉर्मूला 1 सीज़न की दूसरी दौड़ थी।
  • लुईस हैमिल्टन दूसरे स्थान पर रहे जबकि लैंडो नॉरिस दौड़ में तीसरे स्थान पर रहे।
  • फेरारी डुओ चार्ल्स लेक्लेर्क और कार्लोस सैंज ने चौथे और पांचवें स्थान पर दौड़ समाप्त की।
  • मैक्स वेरस्टापेन ने लुईस हैमिल्टन से 21 सेकंड से यह रेस जीती है।
  • एमिलिया रोमाग्ना एफ 1 ग्रैंड प्रिक्स एक मोटर रेसिंग चैम्पियनशिप है। फॉर्मूला वन 2021 में 23 दौड़ का आयोजन करेगा।

विषय: राष्ट्रीय समाचार

8. लेबर ब्यूरो ने कोलकाता के साल्ट लेक सिटी में एक अतिरिक्त कार्यालय खोला।

  • कोलकाता के साल्ट लेक सिटी में लेबर ब्यूरो के एक अतिरिक्त कार्यालय का उद्घाटन किया गया।
  • यह पूरे पूर्वी क्षेत्र में सर्वेक्षण संबंधी गतिविधियों के लिए एक केंद्र के रूप में काम करेगा।
  • यह विषयों के विशेषज्ञों और लेबर ब्यूरो के अधिकारियों के माध्यम से क्षेत्र के काम की प्रगति का समन्वय और निगरानी करेगा।
  • लेबर ब्यूरो ने कई राज्यों में 1 अप्रैल 2021 से अखिल भारतीय प्रवासी मजदूर सर्वेक्षण और अखिल भारतीय संस्था आधारित तिमाही रोजगार सर्वेक्षण के लिए फील्ड वर्क शुरू किया है।
  • श्रम ब्यूरो पाँच अखिल भारतीय सर्वेक्षण आयोजित करेगा, जिनके नाम इस प्रकार हैं-
    • अखिल भारतीय घरेलू कामगारों का सर्वेक्षण
    • अखिल भारतीय प्रवासी श्रमिक सर्वेक्षण,
    • अखिल भारतीय परिवहन क्षेत्र उत्पादित रोजगार सर्वेक्षण,
    • अखिल भारतीय पेशेवर उत्पादित रोजगार सर्वेक्षण,
    • अखिल भारतीय प्रतिष्ठान आधारित तिमाही रोजगार सर्वेक्षण
  • सर्वेक्षण श्रम ब्यूरो द्वारा किया जाएगा और सर्वेक्षण के लिए प्रौद्योगिकी बेसिल (बीईसीआईएल) द्वारा प्रदान किया जाएगा। यह प्रवासी श्रमिकों, संगठित और असंगठित क्षेत्रों में रोजगार की स्थिति पर महत्वपूर्ण डेटा प्रदान करेगा।
  • लेबर ब्यूरो: यह श्रम और रोजगार मंत्रालय का एक संलग्न कार्यालय है। यह आंकड़ों और संबंधित सूचनाओं के संग्रह और प्रकाशन के लिए जिम्मेदार है।

Labour Bureau opened an additional office in Salt Lake City

(Source: PIB)

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

9. रूस 2021 में एक चंद्र अभियान शुरू करेगा।

  • रूस की रोस्कोसमोस अंतरिक्ष एजेंसी अक्टूबर 2021 में लूना 25 चंद्र लैंडर मिशन को लॉन्च करेगी। यह 1976 के बाद पहला रूसी चंद्र मिशन होगा।
  • यह चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव क्षेत्र के पास उतरेगा। यह ध्रुवीय रेगोलिथ की संरचना, और चंद्रमा के ध्रुवीय एक्सोस्फीयर के प्लाज्मा और धूल घटकों का अध्ययन करेगा।
  • लूना -25 अंतरिक्ष यान में एक लैंडर शामिल होगा। लैंडर के पास रेगोलिथ के सतह को हटाने और इकट्ठा करने के लिए लूनर रोबोटिक आर्म (एलआरए) है।
  • इस मिशन के अन्य उपकरण हैं:
    • एड्रॉन-एलआर एक गामा-किरण और न्यूट्रॉन स्पेक्ट्रोमीटर है जो सतह के रेगोलिथ का अध्ययन करेगा।
    • एरीज-एल ध्रुवीय एक्सोस्फेयर में चार्ज कणों और न्यूट्रल का पता लगाएगा।
    • पीएमएल डिटेक्टर ध्रुवीय एक्सोस्फीयर में धूल का अध्ययन करेगा।
    • लाएसएमा - एल आर स्पेक्ट्रोमीटर रेगोलिथ नमूनों की संरचना को मापेगा।
    • एलआईएस-टीवी-आरपीएम नमूने में सतह के पानी और ओएच को मापेगा।

विषय: सरकारी योजनाएं और पहल

10. सरकार ने स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना शुरू की।

  • केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने 19 अप्रैल 2021 को स्टार्टअप इंडिया सीड फंड स्कीम (एसआईएसएफएस) की शुरुआत की है।
  • प्रधान मंत्री द्वारा 16 जनवरी 2021 को 'प्रारंभ: स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट' के दौरान इसकी घोषणा की गई थी।
  • यह अगले चार वर्षों में स्टार्टअप्स को 945 करोड़ की वित्तीय सहायता प्रदान करेगा। यह अवधारणा, प्रोटोटाइप विकास, उत्पाद परीक्षणों, बाजार में प्रवेश और व्यावसायीकरण के प्रमाणीकरण के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।
  • यह 300 इनक्यूबेटरों के माध्यम से 3,600 स्टार्टअप्स को सहायता प्रदान करेगा। यह भारत के द्वि-स्तरीय और त्रि-स्तरीय शहरों में एक मजबूत स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र बनाने में मदद करेगा।
  • यह मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों के इनोवेटर्स पर ध्यान केंद्रित करेगा। यह योजना विचारों और उनके कार्यान्वयन के बीच एक सेतु का काम करेगी।
  • इस योजना के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल भी बनाया गया है। डीपीआईआईटी द्वारा एक विशेषज्ञ सलाहकार समिति (ईएसी) स्टार्टअप इंडिया सीड फंड स्कीम का निष्पादन और निगरानी करेगी।
  • चयनित इनक्यूबेटरों स्टार्टअप्स की अवधारणा की प्रमाणिकता या प्रोटोटाइप डेवलपमेंट के सत्यापन के लिए 20 लाख रुपये तक का अनुदान मिलेगा।

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

11. नासा के हेलिकॉप्टर ने मंगल पर उड़ान भरकर इतिहास रचा।

  • नासा का इनजेन्यूटी हेलिकॉप्टर दूसरे ग्रह पर उड़ान भरने वाला पहला विमान बन गया है। लघु रोबोट हेलीकॉप्टर ने मंगल पर सफल टेक-ऑफ और लैंडिंग का प्रदर्शन किया।
  • यह किसी अन्य ग्रह पर पहली संचालित, नियंत्रित उड़ान है। यह सौर ऊर्जा से चलने वाला हेलीकॉप्टर है।
  • इसने 40 सेकंड की उड़ान के दौरान लगभग 10 फीट की ऊंचाई प्राप्त की। इनजेन्यूटी हेलिकॉप्टर का वजन लगभग 4-पाउंड (1.8-किलोग्राम) है।
  • हेलीकॉप्टर मंगल के वातावरण में और उड़ानें भरने का प्रयास करेगा। हेलीकॉप्टर दूसरी और तीसरी उड़ानों में संभवत: थोड़ा अधिक ऊपर तक जाएगा।
  • ‘परसेवेरेंस रोवर’ ने इस उड़ान मिशन में सहयोग किया। यह मंगल पर उतरने वाला नासा का पाँचवाँ रोवर है।

 

 

 

 

0
COMMENTS

Comments


Share Blog