डेली करेंट अफेयर्स और GK | 6 और 7 दिसंबर 2020

Main Headlines:

 

विषय: पर्यावरण और पारिस्थितिकी

1. महाराष्ट्र में 10 नए संरक्षण रिज़र्व और एक अभयारण्य स्थापित किया जाएगा।

  • महाराष्ट्र के वन्यजीव बोर्ड ने घोषणा की है कि राज्य में दस संरक्षण रिज़र्व और एक अभयारण्य स्थापित किया जाएगा।
  • आठ संरक्षण रिज़र्व महाराष्ट्र के पश्चिमी भाग में स्थापित किए जाएंगे और दो राज्य के विदर्भ क्षेत्रों में स्थापित किए जाएंगे। चंद्रपुर जिले के कन्हलगांव को एक अभयारण्य के रूप में उन्नत किया जाएगा।
  • घोषित संरक्षण रिज़र्व पश्चिमी महाराष्ट्र और विदर्भ में लगभग 10,000 किमी में फैला हुआ है।
  • भारत में लगभग 88 संरक्षण रिज़र्व हैं।
  • संरक्षण रिज़र्व: ये संरक्षित क्षेत्र हैं जो स्थापित राष्ट्रीय उद्यानों, वन्यजीव अभयारण्यों और भारत के आरक्षित और संरक्षित जंगलों के बीच बफर जोन के रूप में कार्य करते हैं।
  • वन्यजीव अभयारण्य: यह एक संरक्षित क्षेत्र है जहां जानवर अपने प्राकृतिक आवासों में संरक्षित और सुरक्षित रह सकते हैं। भारत में लगभग 553 वन्यजीव अभयारण्य हैं
  • महाराष्ट्र में संरक्षित क्षेत्र:
    • राज्य में छह राष्ट्रीय उद्यान हैं। ये हैं चंदौली नेशनल पार्क, गुगामल नेशनल पार्क, नवगांव नेशनल पार्क, पेंच नेशनल पार्क, संजय गांधी नेशनल पार्क, तडोबा नेशनल पार्क।
    • महाराष्ट्र में 41 वन्यजीव अभयारण्य हैं।
    • चार बाघ अभ्यारण्य हैं – मेलघाट (अमरावती), ताडोबा-अंधारी (चंद्रपुर), पेंच (नागपुर), और सहोदरी कोल्हापुर और सांगली)
 

विषय: महत्वपूर्ण दिन

2. अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस: 7 दिसंबर

  • पूरे विश्व में राष्ट्रों के सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए नागरिक उड्डयन के महत्व के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए हर साल 7 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस मनाया जाता है।
  • इसका उद्देश्य वैश्विक कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने में आईसीएओ द्वारा निभाई गई अनूठी भूमिका को उजागर करना भी है।
  • 1994 में, अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस, कन्वेंशन ऑफ़ इंटरनेशनल सिविल एविएशन पर हस्ताक्षर की 50 वीं वर्षगांठ के समारोह के हिस्से के रूप में स्थापित किया गया था।
  • थीम 2020: "ग्लोबल एविएशन डेवलपमेंट के लिए नवाचार को आगे बढ़ाना"
  • अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (ICAO):
    • यह संयुक्त राष्ट्र की एक विशिष्ट एजेंसी है जिसका गठन 1944 में शिकागो कन्वेंशन के प्रशासन के प्रबंधन के लिए किया गया था।
    • इसका मुख्यालय कनाडा के मॉन्ट्रियल में स्थित है।
    • इसके रणनीतिक उद्देश्यों में सुरक्षा को बढ़ाना और वैश्विक नागरिक उड्डयन प्रणाली की क्षमता बढ़ाना, आर्थिक विकास को बढ़ावा देना और पर्यावरण पर नागरिक उड्डयन गतिविधियों के प्रतिकूल प्रभाव को कम करना शामिल है।

विषय: समझौता ज्ञापन / समझौते

3. बांग्लादेश ने अपने पहले अधिमान्य व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए।

  • बांग्लादेश ने स्वतंत्रता के बाद भूटान के साथ अपने पहले अधिमान्य व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यह दुनिया के किसी भी देश के साथ इसका पहला पीटीए (PTA) है।
  • यह ढाका में भूटान और बांग्लादेश के बीच राजनयिक संबंधों की 50 वीं वर्षगांठ पर हस्ताक्षर किया गया है।
  • यह दोनों देशों के बीच कई सामानों को शुल्क-मुक्त करने की अनुमति देगा। यह 100 बांग्लादेश उत्पाद और 34 भूटान उत्पादों को शुल्क-मुक्त करने की अनुमति देगा।
  • भूटान और बांग्लादेश के बीच व्यापार लगभग 50 मिलियन डॉलर है।
  • बांग्लादेश इंडोनेशिया और नेपाल सहित कई अन्य देशों के साथ 11 और पीटीए और एफटीए पर हस्ताक्षर करेगा।
  • अधिमान्य व्यापार समझौता: यह एक प्रकार का व्यापार समझौता है जिसमें सदस्य कुछ उत्पादों के व्यापार पर शुल्क कम करते हैं।
  • बांग्लादेश:
    • यह बंगाल की खाड़ी में भारत के पूर्व में स्थित है।
    • इसकी राजधानी ढाका है, और मुद्रा बांग्लादेशी टका है।
    • शेख हसीना बांग्लादेश की प्रधान मंत्री हैं।
    • बांग्लादेश दक्षिण एशिया में भारत का सबसे बड़ा व्यापार भागीदार है।

preferential trade agreement

विषय: महत्वपूर्ण दिन

4. भारतीय सशस्त्र सेना झंडा दिवस: 7 दिसंबर

  • भारतीय सशस्त्र सेना झंडा दिवस हर साल 7 दिसंबर को पूरे भारत में शहीदों और भारतीय सशस्त्र बलों के सैनिकों को सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है।
  • 2 दिसंबर को, रक्षा मंत्री ने घोषणा की है कि सशस्त्र सेना झंडा दिवस 2020 पूरे दिसंबर के दौरान केंद्र, राज्य और सैनिक बोर्ड द्वारा गौरव माह के रूप में मनाया जाएगा।
  • भारतीय सशस्त्र सेना झंडा दिवस 1949 से मनाया जा रहा है। इस दिन, लोगों से अनुरोध किया जाता है कि वे पूर्व सैनिकों, युद्ध विधवाओं और उनके आश्रितों के कल्याण के लिए सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष (एएफएफडीएफ) में योगदान दें।
  • सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष (एएफएफडीएफ):
    • 1949 में झंडा दिवस कोष का गठन बलदेव सिंह समिति द्वारा किया गया। 1993 में, संबंधित कल्याण निधियों को एक सशस्त्र सेना झंडा दिवस निधि (एएफएफडीएफ) में समेकित किया गया।
    • एएफएफडीएफ के प्रशासन की जिम्मेदारी केंद्रीय सैनिक बोर्ड (केएसबी) के पास है। केएसबी प्रशासनिक रूप से एएफएफडीएफ को नियंत्रित करता है।
    • एएफएफडीएफ का प्रबंधन प्रबंधन समिति द्वारा किया जाता है। रक्षा मंत्री इस समिति के अध्यक्ष हैं और रक्षा राज्य मंत्री इसके उपाध्यक्ष हैं।
    • तीनों सेवा प्रमुख, रक्षा सचिव, सचिव, भूतपूर्व सैनिक कल्याण / रक्षा मंत्रालय और केंद्र सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी इसके सदस्य हैं।
  • केन्द्रीय सैनिक बोर्ड:
    • यह रक्षा मंत्रालय के भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग के अधीन काम करता है। यह भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग का एक संलग्न कार्यालय है।
    • यह पूर्व सैनिकों के पुनर्वास और कल्याण और उनके आश्रितों के लिए नीतियां बनाता है। यह उनके लिए विभिन्न कल्याणकारी और पुनर्वास योजनाओं का निर्माण और संचालन भी करता है।
    • रक्षा मंत्री इसके अध्यक्ष और अन्य वरिष्ठ सेवा प्रमुख, वरिष्ठ सरकारी अधिकारी, सेवानिवृत्त अधिकारी, महिला, और सेवानिवृत्त जेसीओ इसके सदस्य हैं।

Armed Force Flag

विषय: राष्ट्रीय समाचार

5. सरकार ने विज्ञापनों के लिए एएससीआई(ASCI) दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए निजी चैनलों को परामर्श जारी किया।

  • निजी चैनलों के लिए सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा ऑनलाइन गेम और कल्पनात्मक खेल से संबंधित विज्ञापन के लिए एएससीआई (ASCI) दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए एक परामर्श जारी किया गया है।
  • यह सलाह निजी चैनलों को उनके विज्ञापन में कानून द्वारा निषिद्ध किसी भी गतिविधि को बढ़ावा नहीं देने के लिए जारी की गई है।
  • विज्ञापन के लिए एएससीआई (ASCI) दिशानिर्देश हैं:
    • गेमिंग विज्ञापन में वित्तीय पहलू और गेम की लत के बारे में अस्वीकरण होना चाहिए।
    • एक विज्ञापन को आय-सृजन रोजगार के विकल्प के रूप में किसी भी ऑनलाइन गेम को बढ़ावा नहीं देना चाहिए।
    • यह भी नहीं दिखाना चाहिए कि खेल खेलने वाले व्यक्ति दूसरों की तुलना में अधिक सफल होते हैं।
    • अस्वीकरण को विज्ञापन स्थान के कम से कम 20% हिस्से पर होना चाहिए।
  • भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (ASCI):
    • इसकी स्थापना 1985 में हुई थी।
    • यह एक गैर-सरकारी निकाय है।
    • यह उपभोक्ताओं के हित की सुरक्षा के लिए विज्ञापन के नियमन के लिए एक स्व-नियामक निकाय है।
    • यह विज्ञापन स्व-विनियमन पर अंतर्राष्ट्रीय परिषद की कार्यकारी समिति का हिस्सा भी है।

विषय: समाचार में व्यक्तित्व

6. गुजरात उच्च न्यायालय के आसीन न्यायाधीश जी आर उधवानी का निधन हो गया।

  • गुजरात उच्च न्यायालय के आसीन न्यायाधीश जी आर उधवानी का निधन 59 वर्ष की आयु में COVID 19 के कारण हो गया है।
  • वे 1997 में अहमदाबाद सिटी सिविल कोर्ट की खंडपीठ में शामिल हुए और 2003 में विशेष न्यायालय (POTA) में अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में नियुक्त हुए थे।
  • उन्होंने गुजरात उच्च न्यायालय में रजिस्ट्रार के रूप में भी काम किया था।

उच्च न्यायालय के न्यायाधीश बनने की योग्यता

उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की नियुक्ति

अवधि

  • वह भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • वह दस साल के लिए किसी भी राज्य के अधीनस्थ न्यायालय में एक न्यायाधीश होना चाहिए या दस साल के लिए उच्च न्यायालय का एक वकील रहा हो।
  • राष्ट्रपति भारत के मुख्य न्यायाधीश, उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश और राज्य के राज्यपाल के परामर्श के बाद उच्च न्यायालय के अन्य न्यायाधीशों की नियुक्ति करता है।
  • वह 62 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक पद संभालते हैं।
  • संसद के दोनों सदनों द्वारा पारित प्रस्ताव के आधार पर राष्ट्रपति के आदेश से ही न्यायाधीश को हटाया जा सकता है।

 

विषय: राष्ट्रीय समाचार

7. सरकार एक आयुष निर्यात प्रोत्साहन परिषद की स्थापना करेगी।

  • आयुष मंत्रालय और वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय आयुष निर्यात बढ़ाने के लिए निर्यात प्रोत्साहन परिषद का गठन करेंगे।
  • आयुष निर्यात को बढ़ावा देने के लिए दोनों मंत्रालय आयुष उत्पादों के मानकीकरण, मूल्य निर्धारण और गुणवत्ता के लिए मिलकर काम करेंगे।
  • यह निर्णय आयुष व्यापार और उद्योग की संयुक्त समीक्षा बैठक में लिया गया।
  • सरकार ने कहा कि आयुष उत्पादों की वैश्विक मांग को पूरा करने के लिए आयुष क्षेत्र में वृद्धि आवश्यक है।
  • आयुष मंत्रालय अंतर्राष्ट्रीय मानक आयुष उत्पादों के विकास के लिए भारतीय मानक ब्यूरो के साथ मिलकर काम करेगा।
  • आयुष: इसका अर्थ आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी है। यह एक चिकित्सा प्रणाली है जो निश्चित चिकित्सा दर्शन और स्वस्थ रहने के तरीके पर आधारित है। भारत में इस चिकित्सा प्रणाली की समृद्ध विरासत है।
  • पीयूष गोयल भारत के वर्तमान वाणिज्य और उद्योग मंत्री हैं।
  • आयुष मंत्रालय:
    • यह भारत में स्वदेशी वैकल्पिक चिकित्सा प्रणालियों के अनुसंधान और प्रसार के लिए जिम्मेदार है।
    • श्रीपाद येसो नाइक वर्तमान के आयुष मंत्री हैं।

विषय: कला और संस्कृति

8. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने हम्पी के पत्थर के रथ के चारों ओर बैरिकेड्स लगा दिए हैं।

  • भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने इसे बचाने के लिए हम्पी के पत्थर के रथ के चारों ओर बैरिकेड्स लगा दिए हैं।
  • यह पत्थर का रथ हम्पी के यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल में विजय विट्ठल मंदिर के सामने स्थित है।
  • एएसआई ने अवरोध पत्थर के रथ को लोगों को छूने या चढ़ने से रोकने के लिए खड़े किए हैं।
  • हम्पी का पत्थर का रथ भारत के तीन प्रसिद्ध पत्थर रथों में से एक है। यह गरुड़ को समर्पित एक मंदिर है। यह विजयनगर शासकों (14 वीं  से 17 वीं  शताब्दी) के समय का है।
  • अन्य प्रसिद्ध पत्थर रथ कोणार्क, ओडिशा और महाबलीपुरम, तमिलनाडु में हैं।
  • ग्रुप ऑफ़ मॉन्यूमेंट्स हम्पी:
    • हंपी, कर्नाटक में स्मारकों के समूह को 1986 में विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता दी गई थी।
    • हम्पी विजयनगर साम्राज्य की राजधानी थी। यह तुंगभद्रा नदी के पास स्थित है।
    • इसे विरुपक्ष मंदिर, विट्ठल मंदिर, कृष्ण मंदिर, हजरा राम मंदिर, लोटस महल आदि के लिए जाना जाता है।

hampi stone chariot

(Source: The Hindu)

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

9. जापान का हायाबुसा 2 ऑस्ट्रेलिया में सुरक्षित रूप से उतरा।

  • जापान के हायाबुसा 2 ने अपना छह साल का मिशन पूरा किया और ऑस्ट्रेलिया में क्षुद्रग्रह रयगु के नमूनों के साथ सुरक्षित रूप से उतरा।
  • सौर प्रणाली और पानी जैसे अणुओं की उत्पत्ति के बारे में जानने के लिए जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी (जाक्सा) द्वारा मिशन को प्रारंभ किया गया था।
  • मिशन के लिए अंतरिक्ष यान दिसंबर 2014 में जापान के तनेगाशिमा अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया था। यह चार साल में क्षुद्रग्रह 162173 रयुगु तक पहुंचा।
  • यह जून 2018 में क्षुद्रग्रह रयुगु तक पहुंचा, क्षुद्रग्रह से नमूने लिया और नवंबर 2019 में पृथ्वी को चल दिया
  • 6 दिसंबर को यह ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड के उत्तर में वूमेरा प्रतिबंधित क्षेत्र में उतरा। हायाबुसा 2 से पहले, हायाबुसा 1 को जापान ने मई 2003 में लॉन्च किया था।
  • हायाबुसा 1 ने क्षुद्रग्रह इटोकावा को छुआ और 2010 में नमूनों के साथ लौटा। हायाबुसा 1 पहले अंतरिक्ष यान था जिसे एक क्षुद्रग्रह पर उतरने और उड़ने के लिए प्लान किया गया था।

10. चीन के चांग'ई -5 प्रोब ने चंद्रमा की सतह पर नमूने एकत्र किए और ऑर्बिटर के साथ डॉक किया।

  • चीन के चांग'ई -5 प्रोब ने चंद्रमा की सतह पर नमूने एकत्र किए हैं और ऑर्बिटर (चंद्रमा की परिक्रमा करने वाले अंतरिक्ष यान) के साथ डॉक किया है।
  • चीन के चांग'ई -5 प्रोब चांग'ई -5 मिशन का एक हिस्सा है। इसका नाम चीनी पौराणिक कथाओं की चंद्रमा की देवी के नाम पर रखा गया है।
  • चीन ने चांग'ई -5 प्रोब की डॉकिंग के साथ चंद्रमा की कक्षा में अपना पहला डॉकिंग पूरा किया।
  • नमूने ले जाने वाले कार्गो कैप्सूल ने चंद्र सतह से प्रस्थान किया। यह एक एक्स्ट्रटरेस्ट्रीअल (परग्रही या अंतरिक्षवासी) बॉडी से एक चीनी अंतरिक्ष यान का पहला लिफ्टऑफ (उड़ान भरना) था।
  • कार्गो ने नमूनों को ऑर्बिटर में स्थानांतरित कर दिया। ऑर्बिटर अलग हो जाएगा और नमूनों के साथ पृथ्वी पर वापस आएगा।
  • नमूने वैज्ञानिकों को चंद्रमा की उत्पत्ति के बारे में और इसकी सतह पर ज्वालामुखीय गतिविधि के बारे में जानने में मदद करेंगे।
  • यदि मिशन नमूने लाने में सफल हो जाता है, तो चीन चंद्रमा से नमूने लाने वाला तीसरा देश बन जाएगा। अमेरिका और सोवियत संघ ने 1960 और 1970 के दशक में ऐसा किया था।
  • चांग' -5 को नवंबर 2020 में लॉन्ग मार्च 5 लॉन्च वाहन के माध्यम से लॉन्च किया गया था। यह 16 दिसंबर 2020 के आसपास पृथ्वी पर लौट सकता है।

chinas change-5 probe

(Source: The Hindu)

विषय: राज्य समाचार / उत्तर प्रदेश

11. आगरा मेट्रो परियोजना के निर्माण कार्य का पीएम मोदी द्वारा उद्घाटन किया गया।

  • आगरा मेट्रो परियोजना के निर्माण कार्य का पीएम मोदी द्वारा उद्घाटन किया गया है।
  • आगरा मेट्रो परियोजना में दो गलियारे शामिल हैं। गलियारों की कुल लंबाई 29.4 किलोमीटर है।
  • ये दो गलियारे 14 किमी लंबा सिकंदरा से ताज पूर्वी गेट तक गलियारा और 15.40 किलोमीटर लंबा आगरा कैंट से कालिंदी विहार गलियारा हैं।
  • 8,379 करोड़ रुपये से अधिक की अनुमानित लागत पर परियोजना को पूरा करने में 5 साल लगेंगे।
  • यह परियोजना भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार के संयुक्त स्वामित्व वाली कंपनी “उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (यूपीएमआरसी)” द्वारा कार्यान्वित की जा रही है।
  • आगरा मेट्रो परियोजना को फरवरी 2019 में केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा अनुमोदित किया गया था और मार्च 2019 में पीएम मोदी द्वारा इसका उद्घाटन किया गया था।
  • आगरा शहर यमुना नदी के तट पर स्थित है। यह यूपी का चौथा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। आगरा में तीन विश्व धरोहर स्थल स्थित हैं। वे ताज महल, आगरा किला और फतेहपुर सीकरी हैं ।
  • हाल ही में आगरा में कीठम झील (सुर सरोवर झील) को रामसर साइट सूची में जोड़ा गया था।

Agra Metro Project

(Source: News on AIR)

 

 

 

0
COMMENTS

Comments


Share Blog