डेली करेंट अफेयर्स और GK | 2 फरवरी 2021

Main Headlines:

विषय: खेल

1. तमिलनाडु ने सैयद मुश्ताक अली टी 20 ट्रॉफी जीता।

  • तमिलनाडु ने अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम में बड़ौदा को सात विकेट से हराकर सैयद मुश्ताक अली टी 20 ट्रॉफी जीता।
  • यह दूसरी बार है जब तमिलनाडु ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जीता है। दिनेश कार्तिक तमिलनाडु टीम का नेतृत्व कर रहे थे।
  • तमिलनाडु ने 2006-07 में अपना पहला सैयद मुश्ताक अली खिताब जीता था।
  • सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी:
    • यह एक घरेलू ट्वेंटी 20 क्रिकेट चैंपियनशिप है।
    • यह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा आयोजित किया जाता है।
    • कर्नाटक सैयद मुस्ताक अली ट्रॉफी 2019-20 का विजेता था।
 
 

विषय: राष्ट्रीय समाचार

2. केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने आसियान इंडिया हैकथॉन उद्घाटन सत्र को संबोधित किया।

  • केंद्रीय शिक्षा मंत्री पोखरियाल ‘निशंक’ ने आसियान इंडिया हैकाथॉन के उद्घाटन समारोह को संबोधित किया।
  • शिक्षा मंत्रालय द्वारा आसियान-भारत हैकथॉन का आयोजन किया जा रहा है। यह 1 से 3 फरवरी तक आयोजित किया जा रहा है। यह 36 घंटे का हैकथॉन है।
  • हैकथॉन ब्लू इकोनॉमी, कृषि, पर्यटन, स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा से संबंधित चुनौतियों को हल करने में भारत और आसियान देशों की मदद करेगा।
  • हैकथॉन शिक्षा, विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग के माध्यम से भारत और आसियान देशों के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों को मजबूत करने में भी मदद करेगा।
  • दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का संगठन (आसियान):
    • इसकी स्थापना 8 अगस्त 1967 को हुई थी।आसियान में दक्षिण पूर्व एशिया के 10 देश शामिल हैं - इंडोनेशिया, थाईलैंड, मलेशिया, सिंगापुर, फिलीपींस, वियतनाम, ब्रुनेई, म्यांमार (बर्मा), कंबोडिया, लाओस।
    • आसियान भारत का चौथा सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है और इसका मुख्यालय इंडोनेशिया के जकार्ता में है।
    • आसियान-भारत संबंधों को 2012 में आसियान-भारत रणनीतिक साझेदारी में उन्नत किया गया था।
    • आसियान-भारत विदेश मंत्रियों की बैठक में आसियान-भारत योजना, 2015-2020 को 2015 में अपनाया गया था।

asean-india hackathon

(Source: News on AIR)

 

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

3. केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा भारत का पहला डिजिटल केंद्रीय बजट पेश किया गया।

  • भारत का पहला डिजिटल केंद्रीय बजट केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा 01 फरवरी को पेश किया गया।
  • केंद्रीय बजट 2021-22 भारत का पहला डिजिटल केंद्रीय बजट है। केंद्रीय बजट दस्तावेजों को पहली बार भौतिक रूप में नहीं छापा गया है।
  • केंद्रीय बजट 2021-22 'केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप' पर ऑनलाइन उपलब्ध होगा। केंद्रीय बजट 2021-22 में नीचे दिए गए अनुसार छह स्तंभ हैं।
    • स्वस्थ्य एवं खुशहाली
    • भौतिक एवं वित्तीय  पूंजी, और अवसंरचना
    • आकांक्षी भारत के लिए समावेशी विकास
    • मानव पूंजी को फिर से ऊर्जावान बनाना
    • नवाचार और अनुसंधान व विकास
    • न्‍यूनतम सरकार और अधिकतम शासन
  • बजट भाषण के अलावा, बजट में वार्षिक वित्तीय विवरण (अनुच्छेद 112), अनुदान की मांग (अनुच्छेद 113), वित्त विधेयक (110) और अन्य दस्तावेज भी शामिल होते हैं। 
  • बजट:
    • भारत में बजट 2016 के बाद से फरवरी के पहले दिन वित्त मंत्री द्वारा प्रस्तुत किया जाता है।
    • जेम्स विल्सन ने 18 फरवरी, 1860 को भारत में पहला बजट पेश किया।
    • स्वतंत्रता के बाद, पहला केंद्रीय बजट 26 नवंबर 1947 को स्वतंत्र भारत के पहले वित्त मंत्री, आर.के. शनमुखम चेट्टी द्वारा पेश किया गया।

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

4. केंद्रीय बजट 2021-22 में स्वस्थ्य एवं खुशहाली के लिए परिव्यय को बढ़ाकर रु 2, 23,846 करोड़ रु किया गया।

  • केंद्रीय बजट 2021-22 में स्वस्थ्य एवं खुशहाली के लिए परिव्यय को बढ़ाकर 94,452 करोड़ रु से 2, 23,846 करोड़ रु किया गया।
  • यह पिछले साल से 137% की वृद्धि है। बजट अनुमान 2021-22 में कोविड -19 वैक्सीन के लिए 35,000 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।
  • केंद्रीय बजट 2021-22 के अनुसार, मेड-इन-इंडिया न्यूमोकोकल वैक्सीन पूरे भारत में लॉन्च किया जाएगा। न्यूमोकोकल वैक्सीन कवरेज सालाना 50,000 बच्चों की मौत को बचाएगा।

 health and wellbeing in Union Budget 2021-22

(Source: PIB)

  • इसके अलावा, केंद्रीय बजट 2021-22 में घोषणा की गई है कि पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना को 6 वर्षों में 64,180 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ एक नई केंद्र प्रायोजित योजना के रूप में लॉन्च किया जाएगा।
  • पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना के तहत मुख्य उपाय नेशनल इंस्टीटूशन फॉर वन हेल्थ, वायरोलॉजी के लिए 4 क्षेत्रीय राष्ट्रीय संस्थान और सभी जिलों में एकीकृत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशाला की स्थापना होंगे।
  • बजट 2021-22 में, यह भी घोषणा की गई है कि मिशन पोशन 2.0 लॉन्च किया जाएगा और जल जीवन मिशन (शहरी) के लिए 5 वर्षों में 2, 87,000 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे।
  • जल जीवन मिशन (शहरी) को 2.86 करोड़ घरेलू नल कनेक्शन, सभी 4,378 शहरी स्थानीय निकायों में सार्वभौमिक जल आपूर्ति और 500 अमृत (AMRUT) शहरों में तरल अपशिष्ट प्रबंधन प्रदान करने के लिए लॉन्च किया जाएगा।
  • बजट 2021-22 शहरी स्वच्छ भारत मिशन 2.0 के लिए 5 वर्षों में 1, 41,678 करोड़ रु का भी प्रस्ताव करता है।  यह दस लाख से अधिक आबादी वाले 42 शहरी केंद्रों के वायु प्रदूषण के लिए 2,217 करोड़ रु प्रदान करता है ।
  • यह स्वैच्छिक वाहन स्क्रैपिंग नीति और व्यक्तिगत वाहनों के मामले में 20 साल के बाद और वाणिज्यिक वाहनों के मामले में 15 साल बाद फिटनेस परीक्षणों का प्रस्ताव करता है।
  • न्यूमोकोकल वैक्सीन या न्यूमोनिया वैक्सीन बैक्टीरियल स्ट्रेप्टोकोकस न्यूमोनिया संक्रमण को रोकता है जो निमोनिया, मैनिंजाइटिस (मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी को कवर करने वाले झिल्ली का संक्रमण) और सेप्टीसीमिया (रक्त विषाक्तता) का कारण बन सकता है।
  • वर्तमान में, न्यूमोकोकल वैक्सीन 2016 से पांच राज्यों (हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और बिहार) में उपलब्ध है।

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

5. सरकार ने बीमा कंपनियों में एफडीआई की सीमा 49% से बढ़ाकर 74% कर दिया।

  • बजट 2021-2022 में, सरकार ने बीमा कंपनियों में एफडीआई की सीमा को 49% से बढ़ाकर 74% कर दिया।
  • बजट 2021-22 में पीएसबी का 20,000 करोड़ से पुनः पूंजीकरण करने और एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड और एसेट मैनेजमेंट कंपनी की स्थापना का प्रस्ताव है।
  • सेबी अधिनियम, 1992 और अन्य अधिनियमों के प्रावधानों के समेकन से एकल प्रतिभूति बाजार संहिता का विकास भी बजट 2021-2022 में प्रस्तावित है।
  • विनियमित गोल्ड एक्सचेंजों की एक प्रणाली भी स्थापित की जाएगी। रु 1,000 करोड़ और रु 1,500 करोड़ को क्रमशः भारतीय सौर ऊर्जा निगम और भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी में लगाया जाएगा।
  • यह प्रस्तावित है कि सरफेसी अधिनियम, 2002 के तहत ऋण वसूली के लिए न्यूनतम ऋण आकार 50 लाख रुपये से रु 20 लाख तक कम किया जाएगा।
  • बजट 2021-2022 में कंपनी अधिनियम, 2013 के तहत छोटी कंपनियों की परिभाषा में नीचे दिए गए अनुसार बदलाव का भी प्रस्ताव है।
    • लघु कंपनियों की प्रदत्त पूंजी के लिए न्यूनतम सीमा (थ्रेशोल्ड) 50 लाख रुपए से अनधिक  के स्थान पर 2 करोड़ रुपए से अनधिक करने का प्रस्ताव है। 
    • छोटी कंपनियों के कारोबार की न्यूनतम सीमा को 2 करोड़ रुपए से अनधिक  के स्थान पर 20 करोड़ रुपए से अनधिक करने का प्रस्ताव है।

 

  • एनसीएलटी ढांचे को मजबूत बनाना, ई-कोर्ट प्रणाली को लागू करना और एमसीए 21 संस्करण 3.0 को लॉन्च करना विवादों  के तेजी से समाधान के लिए प्रस्तावित कदम हैं। एमसीए 21 कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए) की एक ई-गवर्नेंस पहल है।

विषय: कृषि

6. सरकार ने कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर रु 16.5 लाख करोड़ किया।

  • सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर रु 16.5 लाख करोड़ किया।
  • बजट 2021-2022 में, ग्रामीण अवसंरचना विकास निधि के आवंटन को 30,000 से बढ़ाकर 40,000 करोड़ रुपये करने का प्रस्ताव है।
  • ऑपरेशन ग्रीन योजना 22 जल्दी खराब होने वाले  उत्पादों पर लागू होगी। यह वर्तमान में टमाटर, प्याज और आलू पर लागू है।
  • 1,000 और मंडियों को ई-एनएएम के साथ एकीकृत किया जाएगा। एपीएमसी को कृषि अवसंरचना कोष  की सुविधा दी जाएगी।
  • केंद्रीय बजट 2021-22 में पेट्रोल और डीजल जैसी वस्तुओं पर कृषि अवसंरचना और विकास उपकर भी प्रस्तावित है।
  • स्वामित्वा योजना को सभी राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों तक विस्तारित किया जाएगा। माइक्रो इरीगेशन फंड को दोगुना कर 10,000 करोड़ रु किया जायेगा।
  • वित्त मंत्री ने अपने बजट 2021-22 के भाषण में कहा कि 5 बड़े मछली पकड़ने वाले बंदरगाह आर्थिक गतिविधियों के केंद्र के रूप में विकसित किए जाएंगे। उनके नाम कोच्चि, चेन्नई, विशाखापत्तनम, पारदीप और पेटुआघाट हैं।
  • वित्त मंत्री ने समुद्री शैवाल की खेती को बढ़ावा देने के लिए तमिलनाडु में एक बहुउद्देशीय समुद्री शैवाल पार्क की स्थापना का भी प्रस्ताव रखा।

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

7. बजट अनुमान (बीई) 2021-2022 में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद का 6.8% होने का अनुमान है।

  • बजट 2021-2022 के भाषण के दौरान, वित्त मंत्री ने घोषणा की कि बजट अनुमान (बीई) 2021-2022 में राजकोषीय घाटा जीडीपी का 6.8% होने का अनुमान है।
  • संशोधित अनुमान (आरई) 2020-21 में राजकोषीय घाटा जीडीपी के 9.5% पर रहने की उम्मीद है।
  • बजट अनुमान (बीई) 2021-2022 में, राज्यों को हस्तांतरित किए जा रहे कुल संसाधन 13 लाख 88 हजार 502 करोड़ रुपये हैं।
  • मोबाइल भागों के विनिर्माण में उपयोग किए जाने वाले भागों के लिए सीमा शुल्क को 0 से बढ़ाकर 2.5% कर दिया गया है।
  • बजट 2021-2022 के दौरान, वित्त मंत्री ने रवींद्रनाथ टैगोर के शब्दों - विश्वास वह चिड़िया है जो प्रकाश की अनुभूति करती है और तब गाती है जब भोर में अँधेरा बना ही रहता है का इस्तेमाल किया।

Fiscal deficit in Budget Estimate (BE) 2021-2022

(Source: News on AIR)

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

8. केंद्रीय बजट: मानव पूंजी में नवजीवन का संचार

  • सरकार ने 2021-22 के बजट में मानव पूंजी का पुनः शक्तिवर्धन के लिए विभिन्न कार्यक्रम और नीति की घोषणा की है।
  • विद्यालय शिक्षा:
    • सरकार ने घोषणा की है कि 15000 से अधिक स्कूलों को उदाहरणपरक विद्यालय के रूप में स्थापित किया जाएगा। इन स्कूलों में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के सभी घटक शामिल होंगे।
    • सरकार गैर-सरकारी संगठनों और निजी स्कूलों के सहयोग से 100 से अधिक नए सैनिक स्कूल भी स्थापित करेगी।
    • सरकार आदिवासी क्षेत्रों के छात्रों के लिए 750 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय स्थापित करेगी। लगभग 4 करोड़ अनुसूचित जाति के छात्र को संशोधित पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना से वित्तीय सहायता मिलेगी।
  • उच्च शिक्षा:
    • उच्च शिक्षा के निर्धारण, प्रत्यायन, विनियमन, और फंडिग के लिए एक उच्चतर शिक्षा आयोग का गठन किया जाएगा।
    • उच्च शिक्षा के लिए लेह में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित किया जाएगा।
    • सरकारी संस्थानों के नियमन के लिए एक संगठित ढांचा स्थापित किया जाएगा।
  • कौशल:
    • सरकार राष्ट्रीय अप्ररैन्टिसशिप प्रशिक्षण योजना को बढ़ावा देगी।
    • सरकार ने कुशल कार्यबल का एक पूल बनाने के लिए यूएई और जापान के साथ सहयोग किया है।

 

विषय: सरकारी योजनाएं और पहल

9. सरकार कपड़ा उद्योगों के लिए मेगा निवेश टेक्सटाइल्स पार्क (मित्रा) योजना शुरू करेगी।

  • केंद्रीय वित्त मंत्री ने 2021-22 के बजट में मेगा निवेश टेक्सटाइल्स पार्क (मित्रा) योजना की घोषणा की है।
  • सरकार मेगा निवेश टेक्सटाइल्स पार्क (मित्रा) योजना के तहत तीन साल में सात टेक्सटाइल पार्क स्थापित करेगी।
  • योजना के तहत, कपड़ा उद्योग को विश्वस्तरीय बुनियादी ढाँचा प्रदान करने के लिए टेक्सटाइल पार्क स्थापित किए जाएंगे। योजना का उद्देश्य भारत को वस्त्रों का विनिर्माण और निर्यात केंद्र बनाना है।
  • यह भारत के वस्त्र उद्योग को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनने, रोजगार सृजित करने, निर्यात बढ़ाने और निवेश आकर्षित करने में मदद करेगा।
  • भारत ने स्कीम फॉर इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क (SITP) के तहत पहले ही 22 टेक्सटाइल पार्क स्थापित किए है। एसआईटीपी (SITP) को 2005 में कपड़ा उद्योगों के लिए बुनियादी ढाँचा विकसित करने के लिए शुरू किया गया था।
  • भारत में कपड़ा क्षेत्र:
    • कपड़ा क्षेत्र देश के सबसे बड़े रोजगार सृजनकर्ताओं में से एक है।
    • भारत दुनिया में वस्त्र और परिधान का पांचवां सबसे बड़ा निर्यातक है।
    • कपड़ा और परिधान उद्योग भारत की जीडीपी में 2% का योगदान देता है।

Mega Investment Textiles Parks (MITRA) scheme

(Source: PIB)

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

10. सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए रणनीतिक विनिवेश नीति की घोषणा की।

  • सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों के विकास और बेहतर प्रबंधन के लिए रणनीतिक विनिवेश की नीति की घोषणा की है।
  • केंद्रीय वित्त मंत्री ने वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में विनिवेश की इस नीति की घोषणा की।
  • सरकार गैर-रणनीतिक और रणनीतिक क्षेत्रों की कंपनियों से अपनी हिस्सेदारी का विनिवेश करेगी।
  • रणनीतिक विनिवेश नीति की मुख्य विशेषताएं:
    • इसमें सीपीएसई, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनियां शामिल होंगी।
    • सरकार वित्त वर्ष 2021-22 में बीपीसीएल, एयर इंडिया, शिपिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया, कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, आईडीबीआई बैंक, बीईएमएल, पवन हंस, नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड में अपनी हिस्सेदारी का विनिवेश करेगी।
    • सरकार दो अन्य सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और एक सामान्य बीमा कंपनी का भी निजीकरण करेगी।
    • जीवन बीमा निगम  का आईपीओ 2021-22 में जारी किया जाएगा।
    • केंद्रीय निधि के प्रोत्साहन पैकेज के माध्यम से केंद्र सरकार राज्यों को अपनी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के विनिवेश के लिए भी प्रोत्साहित करेगी।
    • बेकार भूमि के मुद्रीकरण के लिए एक विशेष उद्देश्य कंपनी की स्थापना की जाएगी।
    • बीमार या अथवा घाटे में चल रहे सीपीएसई को बंद करने के लिए एक संशोधित तंत्र स्थापित किया जाएगा।
  • निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (डीआईपीएएम): यह रणनीतिक विनिवेश या बंद करने और 100 करोड़ और उससे अधिक के मूल्य की शत्रु संपत्ति के तहत केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उद्यमों (CPSE) की गैर-प्रमुख परिसंपत्तियों के मुद्रीकरण के लिए जिम्मेदार है।

Policy on Strategic Disinvestment

(Source: PIB)

विषय: भारतीय अर्थव्यवस्था

11. 2021-22 के केंद्रीय बजट के तहत घोषित किए गए कर प्रस्ताव।

  • वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर प्रस्तावों की घोषणा की है।
  • प्रत्यक्ष कर प्रस्ताव के बारे में मुख्य बातें हैं:
    • सरकार ने 75 वर्ष या उससे अधिक के वरिष्ठ नागरिकों को आयकर रिटर्न दाखिल करने से छूट दी है यदि उनकी आय का एकमात्र स्रोत पेंशन और ब्याज है।
    • आरईआईटी / इनविट को लाभांश भुगतान में टीडीएस से छूट दी जाएगी।
    • स्टार्टअप के लिए कर अवकाश की अवधि को एक और वर्ष 31 मार्च 2022 तक बढ़ा दिया गया है।
    • 10 लाख रुपये तक के कर विवाद को हल करने के लिए एक विवाद समाधान समिति का गठन किया जाएगा।
    • कर संबंधी अपीलों के निपटारे में पारदर्शिता बढ़ाने के लिए राष्‍ट्रीय फेसलेस आयकर अपीलीय ट्रिब्‍यूनल केन्‍द्र की स्थापना की जाएगी।
    • सरकार बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए धन जुटाने के लिए जीरो कूपन बॉन्ड को बढ़ावा देगी।
    • बजट में गिफ्ट सिटी में अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (IFSC) को बढ़ावा देने के लिए कर प्रोत्साहन का प्रस्ताव है।
    • 2020 में रिटर्न फाइलर लगभग 6.48 करोड़ हैं।
    • बजट में सस्ती किराये की आवासीय परियोजनाओं को बढ़ावा देने के लिए एक नई कर छूट का प्रस्ताव है। एक किफायती घर की खरीद के लिए अतिरिक्त कटौती के दावे की समय अवधि 31 मार्च 2022 तक बढ़ा दी गई है।
  • अप्रत्यक्ष कर प्रस्ताव के बारे में मुख्य बातें हैं:
    • घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए कुछ वस्तुओं जैसे गोल्ड, सिल्वर, सोलर इनवर्टर आदि के लिए सीमा शुल्क दरों को संशोधित किया गया है।
    • एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपमेंट सेस (AIDC) पेट्रोल और डीजल पर क्रमश: 2.5 रुपये और 4 रुपये प्रति लीटर लगाया गया है।
    • एंटी-डंपिंग ड्यूटी (ADD) और काउंटर-वीलिंग ड्यूटी (CVD) कुछ स्टील उत्पादों पर निरस्त हो गए।
    • बजट में कपास पर सीमा शुल्क में 10% और कच्चे रेशम और रेशम यार्न पर 15% की वृद्धि का प्रस्ताव है।
    • सरकार जीएसटीएन प्रणाली की क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न कदम उठाएगी।
    • ‘तुरंत कस्टम्स’ कार्यक्रम ने, फेसलेस, कॉन्टैक्टलेस और पेपरलेस कस्टम्स कस्टम प्रशासन प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
    • कर्ज़ या ऋण सरकार के लिए राजस्व का सबसे बड़ा स्रोत है, इसके बाद जीएसटी है। आयकर कर सरकार के लिए कर राजस्व का सबसे बड़ा स्रोत है।
    • सरकार का अधिकतम खर्च ब्याज भुगतान पर जाता है। 

Direct tax proposal

(Source: Finance Ministry)

Indirect tax proposal

(Source: Finance Ministry)

विषय: राष्ट्रीय समाचार

12. महामारी वर्ष में सरकार की उपलब्धियां।

  • COVID-19 महामारी वर्ष में सरकार की उपलब्धियां:
    • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत सरकार ने 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज और 8 करोड़ परिवारों के लिए रसोई गैस उपलब्ध कराई है। किसानों, महिलाओं, बुजुर्गों और गरीब लोगों को सीधे नकद हस्तांतरित किया गया है।
    • सरकार ने 23 लाख करोड़ रुपये का आत्मनिर्भर भारत पैकेज लॉन्च किया है।
    • कोविद के दुनिया भर में प्रति मिलियन मामलों में भारत में मृत्यु दर सबसे कम है।
    • सरकार ने नागरिकों को COVID -19 से बचाने के लिए कई कदम उठाए हैं और स्वदेशी COVID वैक्सीन के विकास के लिए भी सक्रिय रूप से काम किया है।
    • सरकार ने कुछ संरचनात्मक सुधार किए हैं जैसे कि वन नेशन वन राशन कार्ड, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों का निजीकरण, उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजनाएं आदि।
  • भारतीय इतिहास के लिए 2021 मील का पत्थर:
    • यह भारत की स्वतंत्रता का 75 वां वर्ष होगा और 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध का 50 वां वर्ष होगा।
    • स्वतंत्र भारत की 8 वीं जनगणना फरवरी 2021 में शुरू होगी।
    • भारत 2021 में 13 वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा।
    • चंद्रयान -3 2021 में लॉन्च किया जाएगा।
    • कुंभ मेला 2021 में हरिद्वार में आयोजित किया जाएगा।
 

 

 

Share Blog