डेली करेंट अफेयर्स और GK | 28 अप्रैल 2021

Main Headlines:

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

1. दुनिया का सबसे शक्तिशाली जलवायु-परिवर्तन पूर्वानुमान सुपरकंप्यूटर यूनाइटेड किंगडम में बनाया जाएगा।

  • दुनिया का सबसे शक्तिशाली जलवायु-परिवर्तन पूर्वानुमान सुपरकंप्यूटर माइक्रोसॉफ्ट और मेट ऑफिस द्वारा यूनाइटेड किंगडम में बनाया जाएगा।
  • यह तूफान, बाढ़ और बर्फ सहित खराब मौसम की स्थिति के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।
  • यह दुनिया के शीर्ष 25 सुपर कंप्यूटरों में से एक होगा। यूनाइटेड किंगडम सरकार ने इस परियोजना के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की है।
  • इसका उपयोग अग्रिम जलवायु परिवर्तन मॉडलिंग के लिए भी किया जाएगा, जो हवा और तापमान के पूर्वानुमान को बेहतर बनाने में मदद करेगा।
  • यह स्थानीय तूफान और भारी बारिश के खिलाफ तैयारियों में मदद करेगा।
  • जापान सूनामी बाढ़ की भविष्यवाणी के लिए सुपरकंप्यूटर 'फुगाकू' का उपयोग करता है। संयुक्त राज्य अमेरिका जलवायु परिवर्तन और खराब मौसम का अध्ययन करने के लिए एक कंप्यूटर भी विकसित कर रहा है।
  • यूनाइटेड किंगडम:
    • यह इंग्लैंड, स्कॉटलैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड देशों का एक समूह है।
    • यह उत्तर पश्चिमी यूरोप में स्थित है।
    • इसकी राजधानी लंदन है और मुद्रा पाउंड स्टर्लिंग है।
    • बोरिस जॉनसन यूनाइटेड किंगडम के वर्तमान प्रधान मंत्री हैं।

विषय: महत्वपूर्ण दिन

2. विश्व प्रतिरक्षण सप्ताह 2021: 24-30 अप्रैल

  • विश्व प्रतिरक्षण सप्ताह हर साल अप्रैल के अंतिम सप्ताह में मनाया जाता है।
  • इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को बीमारी से बचाने के लिए टीकों के उपयोग को बढ़ावा देना है।
  • 'टीके हमें करीब लाते हैं' इस वर्ष के विश्व टीकाकरण सप्ताह का विषय है।
  • टीकाकरण वह प्रक्रिया है जिसके माध्यम से किसी व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली रोग पैदा करने वाले एजेंटों के खिलाफ प्रतिरक्षित हो जाती है।
  • प्रतिरक्षण पर विस्तारित कार्यक्रम (इपीआई) 1978 में शुरू किया गया था। 1985 में, इसे यूनिवर्सल टीकाकरण कार्यक्रम के रूप में नाम दिया गया था।
  • भारत सरकार ने भारत में टीकाकरण के कवरेज को बढ़ाने के लिए मिशन इन्द्रधनुष की शुरुआत की थी।
  • चेचक और पोलियो जैसी कई बीमारियों को टीके के उपयोग से नियंत्रित किया जा सकता है।
  • आंकड़ों के अनुसार, दुनिया में लगभग 20 मिलियन बच्चों को वे वैक्सीन नहीं मिल रहे हैं जिनकी उन्हें आवश्यकता है।

विषय: खेल

3. राफेल नडाल ने अपना 12 वां बार्सिलोना ओपन खिताब जीता।

  • राफेल नडाल ने स्टेफानोस त्सित्सिपास को 6-4 6-7, 7-5 से हराकर अपना 12 वां बार्सिलोना ओपन खिताब जीता है।
  • यह मैच 3 घंटे, 38 मिनट तक चला। यह इस साल के बेस्ट ऑफ़ थ्री एटीपी मैचों में सबसे लंबे समय तक चलने वाले मैच में से एक है।
  • उन्होंने पिछले 10 संस्करणों में बार्सिलोना ओपन के सात खिताब जीते हैं।
  • वह अगले महीने एटीपी मास्टर्स 1000 टूर्नामेंट में खेलेंगे।
  • बार्सिलोना ओपन:
    • यह पुरुष पेशेवर खिलाड़ियों के लिए एक वार्षिक टेनिस टूर्नामेंट है।
    • यह 1953 से बार्सिलोना में आयोजित किया जा रहा है।
    • यह मिट्टी पर खेला जाता है।

विषय: नई गतिविधि

4. सीएसआईआर-सीएमईआरआई ने ऑक्सीजन संवर्धन प्रौद्योगिकी विकसित की है।

  • सीएसआईआर-सीएमईआरआई ने कोविड-19 रोगियों के प्रभावी उपचार के लिए ऑक्सीजन संवर्धन प्रौद्योगिकी विकसित की है।
  • सीएसआईआर-सीएमईआरआई, दुर्गापुर, ने एमएसएमई-डीआई रायपुर के सहयोग से 25 अप्रैल को 'ऑक्सीजन संवर्धन’ प्रौद्योगिकी पर एक वेबिनार का आयोजन किया।
  • इसे अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में आसानी से रखा जा सकता है। यह एक तेल-मुक्त कंप्रेसर से सुसज्जित है।
  • यह 90% से अधिक ऑक्सीजन की शुद्धता के साथ 15 एलपीएम तक की सीमा में चिकित्सा उपयोग वायु पहुंचा सकता है।
  • वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर): सीएसआईआर भारत का सबसे बड़ा अनुसंधान और विकास संगठन और एक स्वायत्त निकाय है।
  • सीएमईआरआई वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की एक प्रयोगशाला है।

विषय: महत्वपूर्ण दिन

5. श्रमिक स्मृति दिवस: 28 अप्रैल

  • श्रमिक स्मृति दिवस उन श्रमिकों की याद में एक अंतर्राष्ट्रीय दिवस है, जो अपने काम के कारण अपनी जान गंवा बैठे या घायल हो गए या विकलांग हो गए।
  • यह हर साल 28 अप्रैल को मनाया जाता है और इसे मृत और घायल लोगों के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्मृति दिवस के रूप में भी जाना जाता है।
  • यह 28 अप्रैल 1996 को अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (आईएलओ) और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संघ परिसंघ द्वारा अपनाया गया था।
  • 2021 में इस दिवस का विषय “स्वास्थ्य और सुरक्षा एक मौलिक श्रमिक अधिकार” है।
  • प्रति वर्ष 28 अप्रैल को विश्व कार्यस्थल स्वास्थ्य व सुरक्षा दिवस भी मनाया जाता है।

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

6. आदित्य-एल 1 मिशन के आंकड़ों को इकट्ठा करने लिए कम्युनिटी सर्विस सेंटर स्थापित किया जाएगा।

  • आदित्य-एल 1 मिशन के आंकड़ों को इकट्ठा करने लिए कम्युनिटी सर्विस सेंटर स्थापित किया जाएगा।
  • आंकड़ों को वेब-आधारित इंटरफ़ेस पर एकत्र किया जाएगा ताकि उपयोगकर्ता आसानी से इन आंकड़ों तक पहुंच सकें।
  • सर्विस सेंटर को आदित्य L1 सपोर्ट सेल (एएल1एससी) कहा जाएगा। यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) और आर्यभट्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ ऑब्जर्वेशन साइंसेज (एआरआईईएस) द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है।
  • एएल1एससी की स्थापना उत्तराखंड में एआरआईईएस के परिसर में की जाएगी। यह दुनिया भर की अन्य वेधशालाओं से सौर मिशन से जुड़े आंकड़े प्रदान करेगा।
  • यह डेटा विश्लेषण और पर्यवेक्षण प्रस्ताव तैयार करने के उद्देश्य से क्षमता निर्माण हेतु राष्ट्रीय उपयोगकर्ताओं के लिए पाक्षिक प्रशिक्षण भी उपलब्ध करा करेगा।
  • यह वैज्ञानिक आंकड़ों को संभालने के लिए विश्लेषण सॉफ्टवेयर के विकास में भी इसरो की मदद करेगा।
  • आदित्य मिशन या आदित्य एल 1 मिशन सूर्य, इसके कोरोना, फोटोस्फियर, और इसके चुंबकीय उत्सर्जन का अध्ययन करने के लिए एक प्रस्तावित मिशन है। यह भारत का पहला सौर अंतरिक्ष मिशन है।

(Source: PIB)

विषय: रिपोर्ट और संकेत

7. भारत को चांडलर गुड गवर्नमेंट इंडेक्स (सीजीजीआई) में 49 वें स्थान पर रखा गया है।

  • भारत को चांडलर गुड गवर्नमेंट इंडेक्स (सीजीजीआई) में 49 वें स्थान पर रखा गया है।
  • इस रैंकिंग में फिनलैंड शीर्ष स्थान पर है, इसके बाद स्विट्जरलैंड और सिंगापुर का स्थान है।
  • चांडलर गुड गवर्नमेंट इंडेक्स (सीजीजीआई) 104 देशों की सरकार को रैंकिंग प्रदान करता है।
  • यह सूचकांक सरकार द्वारा उनकी क्षमताओं की जाँच करने और बेंचमार्किंग के लिए उपयोग किया जाता है। यह सरकार की ताकत और कमजोरी की पहचान करने में मदद करता है।
  • इसे चांडलर इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नेंस द्वारा विकसित किया गया है।
  • यह सात स्तंभों के आधार पर देश को रैंक करता है। स्तंभ इस प्रकार हैं-
    • नेतृत्व और दूरदर्शिता
    • मजबूत कानून और नीतियां
    • मजबूत संस्थाएं
    • वित्तीय सहायता
    • आकर्षक बाजार
    • वैश्विक प्रभाव और प्रतिष्ठा
    • लोगों को उठने में मदद करना

रैंक

देश

1st

फ़िनलैंड

2nd

स्विट्ज़रलैंड

3rd

सिंगापुर

4th

नीदरलैंड

5th

डेनमार्क

विषय: अंतर्राष्ट्रीय समाचार

8. डब्ल्यूएचओ ने 50 मिलियन लोगों की जान बचाने के लिए वैश्विक टीकाकरण रणनीति की घोषणा की।

  • डब्ल्यूएचओ ने 2030 तक 50 मिलियन लोगों के जीवन को बचाने के लिए वैश्विक टीकाकरण रणनीति की घोषणा की है।
  • डब्ल्यूएचओ ने यूनिसेफ और टीका गठबंधन ‘गावी’ के सहयोग से इस रणनीति को विकसित किया है।
  • खसरा, पीला बुखार और डिप्थीरिया जैसी कई जानलेवा बीमारियों के प्रकोप को इस रणनीति द्वारा नियंत्रित किया जाएगा।
  • डब्ल्यूएचओ के अनुसार, एक-तिहाई से अधिक देश अभी भी नियमित टीकाकरण सेवा की समस्या का सामना कर रहे हैं।
  • साठ से अधिक देशों में सामूहिक टीकाकरण अभियान स्थगित कर दिया गया है। इसने 228 मिलियन लोगों को संक्रामक रोग के खतरे में डाल दिया है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ):
    • यह अंतर्राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए जिम्मेदार संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी है।
    • इसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में है।
    • इसकी स्थापना 7 अप्रैल 1948 को हुई थी।
    • इसके वर्तमान अध्यक्ष डॉ टेड्रोस एडनोम घेब्रेयसस हैं।

विषय: समाचार में व्यक्तित्व

9. प्रसिद्ध गुजराती कवि दादू दान गढ़वीका निधन हो गया।

  • प्रख्यात गुजराती कवि दादू दान गढ़वीका 81 वर्ष की आयु में निधन हो गया है।
  • उन्हें लोक साहित्य के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए याद किया जाएगा।
  • उन्हें गुजरात गौरव पुरस्कार और झावरचंद मेघानी पुरस्कार मिला था।
  • 2021 में, उन्हें साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • उन्हें कवि दाद के नाम से भी जाना जाता है। उनके प्रसिद्ध कार्य तेरवा (चार खंड), चित्हारुन्नु गीत, श्री कृष्ण छंदावली और रामनाम बारहखड़ी हैं।

विषय: कृषि

10. 2020-21 में भारत के जैविक खाद्य उत्पादों के निर्यात में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

  • भारत का जैविक खाद्य निर्यात पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 2020-21 में 50% ज्यादा बढ़ा है।
  • वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान, जैविक खाद्य उत्पादों का निर्यात मात्रा के मामले में 39% बढ़ा है। 2020-21 में 888,179 मीट्रिक टन (एमटी) जैविक उत्पाद का निर्यात किया गया है।
  • ऑयल केक मील निर्यात की प्रमुख कमोडिटी रही, इसके बाद तिलहन, फलों का गूदा और प्यूरी, अनाज और बाजरा, का नंबर आता है।
  • भारत के जैविक उत्पादों को 58 से अधिक देशों में निर्यात किया गया।
  • वर्तमान में, केवल उन्हीं जैविक उत्पादों को भारत से निर्यात किया जाता है जो राष्ट्रीय जैविक उत्पादन कार्यक्रम (एनपीओपी) की आवश्यकताओं के अनुरूप उत्पादन, प्रसंस्करण, पैकिंग और लेबिल किए जाते हैं।
  • एनपीओपी प्रमाणन 2001 से लागू किया गया है। इसे यूरोपीय संघ और स्विट्जरलैंड द्वारा मान्यता दी गई है।
  • भारत और कई अन्य देशों के बीच जैविक उत्पादों के निर्यात के लिए परस्पर मान्यता समझौते पर बातचीत चल रही है।
  • भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने भारत में जैविक उत्पादों के व्यापार के लिए एनपीओपी को मान्यता दी है।

 

 

Share Blog