डेली करेंट अफेयर्स और GK | 11 फरवरी 2021

Main Headlines:

विषय: विविध

1. काला घोड़ा कला महोत्सव 2021 मुंबई में मनाया जा रहा है।

  • काला घोड़ा कला महोत्सव 6-14 फरवरी के बीच मुंबई में मनाया जा रहा है।
  • यह 1999 में शुरू किया गया था। इस साल का त्योहार काला घोड़ा कला महोत्सव का 22 वां संस्करण है।
  • यह मुंबई के सबसे बड़े बहुसांस्कृतिक त्योहारों में से एक है। इस कला उत्सव का स्थान ऐतिहासिक कला घोड़ा कला किला है।
  • इस समारोह में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जिसमें नृत्य, रंगमंच, दृश्य कला, कॉमेडी आदि शामिल हैं। यह काला घोड़ा एसोसिएशन द्वारा हर साल आयोजित किया जाता है।
 

विषय: महत्वपूर्ण दिन

2. विश्व दलहन दिवस 2021: 10 फरवरी

  • दालों के पोषण मूल्यों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 10 फरवरी को विश्व दलहन दिवस मनाया जाता है।
  • इस वर्ष की थीम "लव पल्स- स्वस्थ आहार और ग्रह के लिए” है।
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2019 में 10 फरवरी को विश्व दलहन दिवस के रूप में अपनाया था। बुर्किना फासो ने इस दिन को संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्तावित किया था।
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2016 को अंतर्राष्ट्रीय दलहन वर्ष घोषित किया था।
  • विश्व दलहन दिवस सतत विकास लक्ष्य 2 "भूख की समाप्ति" का हिस्सा है।
  • दलहन:
    • यह प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है और स्वस्थ आहार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
    • भारत दलहन फसलों का सबसे बड़ा उत्पादक है, इसके बाद कनाडा है।
    • मध्य प्रदेश भारत में दलहन का सबसे बड़ा उत्पादक है।
    • कुछ प्रमुख प्रकार की दालें हैं- चने की दाल, उड़द दाल, मसूर दाल, आदि।
 

विषय: भारतीय राजव्यवस्था

3. राज्यसभा में प्रमुख बंदरगाह प्राधिकरण विधेयक, 2020 पारित किया गया।

  • भारत में प्रमुख बंदरगाहों के विनियमन, संचालन और नियोजन के लिए राज्यसभा में प्रमुख बंदरगाह प्राधिकरण विधेयक, 2020 पारित किया गया है।
  • यह बिल प्रमुख बंदरगाहों को अधिक स्वायत्तता प्रदान करेगा और प्रमुख बंदरग्राह ट्रस्ट कानून 1963 को प्रतिस्थापित करेगा।
  • विधेयक के अनुसार, मौजूदा पोर्ट ट्रस्टों को प्रतिस्थापित करने हेतु प्रत्येक प्रमुख बंदरगाह के लिए एक बंदरगाह प्राधिकरण बोर्ड गठित किया जाएगा।
  • बंदरगाह प्राधिकरण को अब तटकर तय करने के अधिकार दिए गए हैं जोकि पीपीपी वाली परियोजनों के लिए बोली लगाने के उद्देश्यों के लिए एक संदर्भ तटकर के तौर पर काम करेगा।
  • बंदरगाहों और पीपीपी से संबंधित रियायत पाने वालों के बीच उत्पन्न विवादों को सुलझाने और संकट में पड़ी पीपीपी परियोजनाओं की समीक्षा करने के लिए एक न्यायिक निर्णय करने वाला (एडजुडीकेटरी) बोर्ड का गठन किया जाएगा।
  • केंद्रीय शिपिंग मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि बिल किसी भी तरह से बंदरगाहों का निजीकरण नहीं करता है।
  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने फरवरी 2020 में विधेयक को मंजूरी दी और लोकसभा ने सितंबर 2020 में इसे पारित कर दिया था ।
  • भारत में प्रमुख बंदरगाह:
    • भारत में 13 प्रमुख बंदरगाह हैं, जिनमें से 12 सरकारी हैं और एक (चेन्नई का एन्नोर पोर्ट) कॉर्पोरेट है।
    • भारत के अन्य 12 प्रमुख बंदरगाह इस प्रकार हैं: कोलकाता पोर्ट, पारादीप पोर्ट, न्यू मंगलौर पोर्ट, कोचीन पोर्ट, जवाहरलाल नेहरू पोर्ट, मुंबई पोर्ट, कांडला पोर्ट, विशाखापत्तनम पोर्ट, चेन्नई पोर्ट, तूतीकोरिन पोर्ट, मोरमुगाओ पोर्ट और पोर्ट ब्लेयर पोर्ट।

 Major Port Authorities Bill 2020

(Source: News on AIR)

विषय: पर्यावरण और पारिस्थितिकी

4. काजीरंगा नेशनल पार्क से कुल 93 हजार 491 पक्षी रिपोर्ट किए गए।

  • पार्क प्राधिकरण द्वारा हाल ही में की गई 2 दिवसीय जनगणना में काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान से कुल 93 हजार 491 पक्षियों की सूचना दी गई।
  • पक्षियों की संख्या में लगभग 59 हजार की वृद्धि हुई है। पिछले साल काजीरंगा नेशनल पार्क से कुल 34 हजार 284 पक्षी रिपोर्ट किए गए थे।
  • काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान, असम में एक सींग वाले गैंडों की दुनिया की सबसे बड़ी आबादी है।
  • नेपाल के चितवन नेशनल पार्क में दुनिया में एक सींग वाले गैंडों की दूसरी सबसे बड़ी आबादी है।
  • एक अन्य सर्वेक्षण में, असम के पोबितोरा वन्यजीव अभयारण्य में वाटरफाउल की 58 प्रजातियों को दर्ज किया गया है।
  • पोबितोरा वन्यजीव अभयारण्य को मिनी काजीरंगा के नाम से भी जाना जाता है। यह दुनिया के एक-सींग वाले गैंडों के उच्चतम घनत्व के लिए प्रसिद्ध है।
  • पोबितोरा में एक सींग वाले गैंडों का घनत्व काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान से अधिक है। एक सींग वाले गैंडे शाकाहारी होते हैं। वे आईयूसीएन  रेड सूची में असुरक्षित के रूप में सूचीबद्ध हैं।

Kaziranga National Park

(Source: News on AIR)

विषय: अवसंरचना और ऊर्जा

5. 2040 तक भारत की ऊर्जा मांग में वृद्धि दुनिया में सबसे बड़ी होगी।

  • भारत ऊर्जा आउटलुक 2021 के अनुसार, 2040 तक भारत की ऊर्जा मांग में वृद्धि दुनिया में सबसे बड़ी होगी।
  • अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (आईईए) ने हाल ही में इंडिया एनर्जी आउटलुक 2021 जारी किया है।
  • भारत ऊर्जा आउटलुक 2021 के अनुसार, 2019 और 2030 के बीच भारत की ऊर्जा मांग में लगभग 25% की वृद्धि का अनुमान है और भारत की ऊर्जा खपत 2040 तक लगभग दोगुनी हो जाएगी।
  • आईईए ने यह कहा है कि 2030 तक तेल आयात पर भारत की निर्भरता 90% तक बढ़ने का अनुमान है।
  • वर्तमान में, भारत चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा नेट तेल आयातक है और दुनिया का चौथा सबसे बड़ा तरलीकृत प्राकृतिक गैस आयातक है।

विषय: रक्षा

6. दो साल में एक बार होने वाली थिएटर स्तरीय सामरिक तैयारी युद्धाभ्यास (ट्रोपेक्स 21) वर्तमान में चल रहा है।

  • दो साल में एक बार होने वाली थिएटर स्तरीय सामरिक तैयारी युद्धाभ्यास (ट्रोपेक्स 21) वर्तमान में हिंद महासागर क्षेत्र और आस-पास के क्षेत्रों में चल रहा है।
  • ट्रोपेक्स 21 जनवरी की शुरुआत में शुरू हुआ था। यह फरवरी के तीसरे सप्ताह तक समाप्त हो जाएगा। इसके प्रतिभागियों है-
    • भारतीय नौसेना की सभी परिचालन इकाइयाँ जिनमें जहाज, पनडुब्बी और विमान शामिल हैं
    • भारतीय सेना, भारतीय वायु सेना और तटरक्षक की इकाइयाँ
  • नौसेना मुख्यालय ट्रोपेक्स 21 की देखरेख कर रहा है। पोर्ट ब्लेयर में त्रि-सेवा कमान और भारतीय नौसेना के तीनों कमांड ट्रोपेक्स 21की देखरेख में शामिल हैं।
  • ट्रोपेक्स 21को विभिन्न चरणों में किया जा रहा है। पहले चरण में, 12-13 जनवरी 2021 को तटीय रक्षा अभ्यास सी विजिल किया गया था।
  • सी विजिल के अभ्यास के बाद, एम्फ़ेक्स-21 को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में 21-25 जनवरी को किया गया था। यह त्रि-सेवा संयुक्त जल-थल-नभ युद्धाभ्यास है
  • ट्रोपेक्स 21 एक 'कॉम्बैट रेडी, विश्वसनीय और एकजुट बल' होने के विषय को ध्यान में रखते हुए किया गया है। इसे भारतीय नौसेना के सबसे बड़े युद्ध खेल के रूप में वर्णित किया गया है।
  • थिएटर लेवल ऑपरेशनल रेडीनेस एक्सरसाइज (ट्रोपेक्स) एक अंतर-सेवा सैन्य अभ्यास है। यह 2005 में शुरू हुआ। इसे 2013 तक सालाना आयोजित किया गया था।

Biennial Theatre Level Operational Readiness Exercise

(Source: PIB)

विषय: रिपोर्ट और सूचकांक / रैंकिंग

7. दक्षिण कोरिया को नवीनतम ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स में पहली रैंक मिली।

  • नवीनतम ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स में दक्षिण कोरिया को पहली रैंक मिली।
  • नवीनतम ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स में सिंगापुर और स्विट्जरलैंड को दूसरी और तीसरी रैंक मिली।
  • सूचकांक में जर्मनी की रैंक चौथे स्थान पर रही। ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स 2020 में जर्मनी को पहले स्थान पर रखा गया था।
  • ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स 2021 में शीर्ष 10 रैंक हासिल करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में अमेरिका शामिल नहीं है।
  • ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स 2021 में चीन 16 वें स्थान पर है। चीन के रैंक में एक स्थान की गिरावट आई है।
  • ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स 2021 में भारत की रैंक में सुधार हुआ है। यह 2016 के बाद पहली बार शीर्ष 50 में आया है।
  • उरुग्वे ने पहली बार ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स में प्रवेश किया। ब्लूमबर्ग इनोवेशन इंडेक्स सालाना जारी किया जाता है।

विषय: सरकारी योजनाएं और पहल

8. 2021-22 के लिए कृषि यांत्रिकीकरण पर उप मिशन (एसएमएएम) को रु 1050 करोड़ का बजट आवंटित किया गया।

  • 2021-22 के लिए कृषि यांत्रिकीकरण पर उप मिशन (एसएमएएम) को रु 1050 करोड़ बजट आवंटित किया गया है।
  • 2021-22 के लिए आवंटन पिछले साल किए गए आवंटन से अधिक है। पिछले छह वर्षों (2014-15 से 2020-21) में, सरकार ने एसएमएएम के तहत रु 4556.93 करोड़ की धनराशि जारी की है।
  • सरकार ने 2014-15 में कृषि यांत्रिकीकरण पर उप मिशन (एसएमएएम) शुरू किया था।
  • एसएमएएम के तहत, सरकार ने ग्रामीण स्तर के फार्म मशीनरी बैंक (वीएलएफएमबी) और कस्टम हायरिंग सेंटर (सीएचसी) स्थापित करने का प्रस्ताव रखा।
  • एसएमएएम का उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों को कृषि यांत्रिकीकरण उपलब्ध कराना है। इसका उद्देश्य हाई-टेक और उच्च मूल्य वाले कृषि उपकरणों के लिए हब स्थापित करना और हितधारकों के बीच जागरूकता पैदा करना भी है।
  • निर्दिष्ट परीक्षण केंद्रों में प्रदर्शन परीक्षण और प्रमाणन भी एसएमएएम का एक उद्देश्य है।

विषय: राज्य समाचार / कर्नाटक

9. कर्नाटक डिजिटल अर्थव्यवस्था मिशन कार्यालय का उद्घाटन किया गया।

  • कर्नाटक डिजिटल अर्थव्यवस्था मिशन (केडीईएम) कार्यालय का उद्घाटन किया गया है। इस अवसर पर "बियॉन्ड बेंगलुरु" रिपोर्ट भी लॉन्च की गई है।
  • केडीईएम का मुख्य उद्देश्य सकल राज्य घरेलू उत्पाद में डिजिटल अर्थव्यवस्था की हिस्सेदारी को 30 प्रतिशत तक बढ़ाना है। यह राज्य में रोजगार सृजन के लिए भी काम करेगा।
  • मिशन का उद्देश्य राज्य में आईटी / आईटीईएस क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करना है। यह 2025 तक 300 बिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को प्राप्त करने में राज्य सरकार की मदद भी करेगा।
  • जीएसडीपी में राज्य के अन्य क्षेत्रों के योगदान को बढ़ाने के लिए ‘बियॉन्ड बेंगलुरु’ की परियोजना शुरू की गई है। इसका उद्देश्य अन्य क्षेत्र के योगदान को जीएसडीपी के 10 प्रतिशत तक बढ़ाना है। वर्तमान में, जीएसडीपी में बेंगलुरु का मुख्य योगदान है।
  • सरकार राज्य में डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए 24/7 बिजली, कनेक्टिविटी में सुधार, और बुनियादी ढांचे का विकास करेगी।
  • डिजिटल अर्थव्यवस्था: यह आर्थिक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला को संदर्भित करता है जो उत्पादन के प्रमुख कारकों के रूप में डिजीटल सूचना और ज्ञान का उपयोग करते हैं।

विषय: अंतरिक्ष और आईटी

10. यूएई का मंगल मिशन ’होप प्रोब’ मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश कर गया।

  • यूएई का पहला मंगल मिशन ’होप प्रोब’ जुलाई 2020 में जापान के तनेगाशिमा अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया था। अब यह सात महीने बाद मंगल की कक्षा में प्रवेश कर गया है।
  • संयुक्त अरब अमीरात अमेरिका, रूस, चीन, यूरोपीय संघ और भारत के बाद मंगल ग्रह की कक्षा में पहुंचने वाला पांचवा देश बन गया है। यह पहले प्रयास में मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश करने वाला दूसरा देश बन गया है।
  • यूएई के मंगल मिशन को एरिज़ोना स्टेट यूनिवर्सिटी, कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले और कोलोराडो-बोल्डर विश्वविद्यालय के सहयोग से मोहम्मद बिन राशिद अंतरिक्ष केंद्र द्वारा विकसित और संचालित किया गया है।
  • ’होप प्रोब’ को H- II A रॉकेट द्वारा लॉन्च किया गया था। यह एक उच्च-रिज़ॉल्यूशन कैमरा और एक स्पेक्ट्रोमीटर से सुसज्जित है।
  • इसका मुख्य उद्देश्य मंगल ग्रह की जलवायु गतिशीलता के बारे में जानकारी एकत्र करना है और हाइड्रोजन और ऑक्सीजन गैसों के हानि के कारण का भी पता लगाना है।
  • यह यूएई का चौथा अंतरिक्ष मिशन और पहला इंटरप्लेनेटरी मिशन है। यह मंगल पर एक मंगल वर्ष (पृथ्वी पर 687 दिन) बिताएगा।
  • 2020 में लॉन्च किए गए मिशन हैं:

मिशन का नाम

देश/संगठन

उद्देश्य

पर्सिवरेंस

नासा

मंगल ग्रह पर प्राचीन जीवन के संकेतों की खोज करना।

तियानवेन-1

चीन

ग्रह का सर्वेक्षण करने के लिए

होप प्रोब

संयुक्त अरब अमीरात

मंगल जलवायु गतिशीलता का अध्ययन करने के लिए

विषय: विविध

11. जल्लीकट्टू दौड़ से बाहर, लघु फिल्म बिट्टू ऑस्कर 2021 के अगले दौर में पहुंच गई।

  • लिजो जोस पेल्लीसेरी द्वारा निर्देशित मलयालम फिल्म 'जल्लीकट्टू' ऑस्कर 2021 की दौड़ से बाहर हो गई है। यह सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर फिल्म श्रेणी में भारत की आधिकारिक प्रविष्टि थी।
  • करिश्मा देव दुबे द्वारा निर्देशित "बिट्टू" को बेस्ट लाइव एक्शन लघु फिल्म श्रेणी में शॉर्टलिस्ट किया गया है। यह इस श्रेणी की 10 शॉर्टलिस्ट फिल्मों का हिस्सा है।
  • "लगान", "मदर इंडिया", और "सलाम बॉम्बे" भारतीय फिल्में हैं जिन्होंने सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर श्रेणी के अंतिम पांच में अपनी जगह बनाई थी।
  • 93 वाँ अकादमी पुरस्कार 25 अप्रैल, 2021 को प्रदान किया जाएगा।
  • "पैरासाइट" सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर फिल्म श्रेणी में 92 वें अकादमी पुरस्कार की विजेता थी।

विषय: महत्वपूर्ण दिन

12. अंतरराष्ट्रीय महिला वैज्ञानिक दिवस: 11 फरवरी।

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका को उजागर करने के लिए प्रत्येक वर्ष 11 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय महिला वैज्ञानिक दिवस मनाया जाता है।
  • अंतरराष्ट्रीय महिला वैज्ञानिक दिवस 2021 का विषय "कोविड-19 के खिलाफ संघर्ष में अग्रणी महिला विज्ञानी" है।
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2015 में 11 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय महिला वैज्ञानिक दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया था।
  • इस अवसर पर, 6 वें अंतरराष्ट्रीय महिला वैज्ञानिक दिवस सभा का आयोजन आभासी मोड में किया जाएगा।
  • यह विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने में महिलाओं की भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।
  • सतत विकास लक्ष्य 5: इसका उद्देश्य लैंगिक समानता प्राप्त करना और सभी महिलाओं और लड़कियों को सशक्त बनाना है।
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी में महिलाओं की भूमिका के बारे में तथ्य:
    • दुनिया भर में केवल 30 प्रतिशत शोधकर्ता महिलाएं हैं।
    • 2014-2016 के बीच उच्च शिक्षा में लगभग 30 प्रतिशत महिला छात्रों ने एसटीईएम से संबंधित क्षेत्रों का चयन किया है।
    • गणित और सांख्यिकी, इंजीनियरिंग, आईसीटी क्षेत्रों में महिला छात्रों का नामांकन बहुत कम है।
    • केवल 12 प्रतिशत महिलाएँ ही एसटीईएम की नौकरी में हैं।

विषय: विविध

13. दुनिया का सबसे पुराना जानवर 'जीवाश्म' भीमबेटका की गुफाओं में पाया गया।

  • भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के विशेषज्ञों ने मध्य प्रदेश के भीमबेटका में दुनिया के 'सबसे पुराने जानवर' के जीवाश्म की खोज की है। यह 'ऑडिटोरियम गुफा' की छत पर पाया गया है।
  • यह भारत में पृथ्वी के सबसे पुराने जानवर ‘डिकिन्सोनिया’ का पहला जीवाश्म हो सकता है।
  • जीवाश्म 17 इंच लंबा है और यह जीवन के विकास के बारे में कई जवाब खोजने में वैज्ञानिक की मदद कर सकता है।
  • भीमबेटका शैलाश्रय:
    • यह मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में स्थित है।
    • यह भारत में मानव जीवन के शुरुआती निशानों को प्रदर्शित करता है।
    • यह पुरापाषाण काल से मध्यपाषाण काल के चित्रों के लिए प्रसिद्ध है।
    • भीमबेटका शैलाश्रयों की खोज वी एस वाकणकर ने की थी।
    • यह यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल है।
 

Share Blog